पर्सनल लोन क्या है – What Is Personal Loan In Hindi

5/5 - (5 votes)

पर्सनल लोन जानकारी (Personal Loan Information In Marathi)

Personal Loan का अर्थ होता है व्यक्तिगत ऋण। यह लोन अपने वित्तीय आवश्यकता जैसे शादी, पढाई, यात्रा (सफर) करना, आदि कामों के लिए लिया जाता है।

12 से 60 महीने के अवधि का चयन करके व्यक्तिगत ऋण को चुका सकते है। इसमे उधारकर्ता को ऋण पूरा करने के लिए हफ्ते या मासिक EMI का भुगतान करना होगा।

आपने लिया हुआ कर्जा, लोन की अवधि, और ब्याज दर आदि को ध्यान मे रखके EMI को सुनिश्चित किया जाता है. व्यक्तिगत ऋण के लिए बैंक ऑफ इंडिया, एक्सिस बैंक, PNB, SBI बैंक आदि व्यक्तिगत ऋण प्रदान करते हैं।

नमस्कार दोस्तो आज के इस लेख मे हम जानने वाले की Personal Loan Kya Hota Hai, Personal Loan Ko Kaise Lete Hai, हमे पर्सनल लोन लेते समय हमे किन-किन डॉक्यूमेंट की जरूरत होगी इत्यादि जानकारी को हम इस लेख मे जानने वाले है.

लोन क्या होता है (Loan Kya Hota Hai)

What Is Loan In Hindi: दोस्तो पर्सनल लोन को जानने से पहले हम जानेंगे लोन का मतलब.

लोन को हिंदी मे कर्ज या ऋण कहते है, और Finance मे लोन का अर्थ किसी व्यक्तियों, संगठनों, या संस्था से लिया गया धन। ऋण लेने वाले को ऋणदाता कहा जाता है।

जब कर्जदार सावकार से उधार पर पैसे लेता है तब उधारकर्ता को उस पैसों पर ब्याज देना होता है और उधारकर्ता को सावकार द्वारा ली गई मूल राशि को चुकाना पड़ता है।

पर्सनल लोन क्या है (Personal Loan Kya Hai)

What Is Personal Loan In Hindi: पर्सनल लोन का हिंदी में मतलब व्यक्तिगत ऋण होता है। यह एक तरह की क्रेडिट सुविधा है जिसमे आपको अपने फाइनेंशियल नीड को पुरा कर सकते है।

इसे अन-सिक्योर्ड लोन भी कहा जाता है क्योकि पर्सनल लोन लेने के लिए उधारकर्ता को अपने किसी भी तरह की संपत्ति को गिरवी रखने की जरूरत नही होती.

समान्यत: जब भी लोन लिया जाता है तब उधारकर्ता को संपार्श्विक के तौर पे सावकार के पास अपनी चीजे गिरवी रखनी होती लेकिन Personal Loan लेते वक़्त आपको अपने किसी भी चीज को संपार्श्विक नही रखनी होती.

पर्सनल लोन का इस्तेमाल आपकी वित्तीय ज़रूरतों जैसे शादी, शिक्षा, यात्रा, मेडिकल इमरजेंसी आदि को पूरा करने के लिए किया जा सकता है। इस ऋण की चुकौती अवधि 12 से 60 महीने के बीच होती है।

व्यक्तिगत ऋण के प्रकार (Type Of Personal Loan In Hindi)

पर्सनल लोन दो मुख्य प्रकार के होते हैं। सुरक्षित ऋण और असुरक्षित ऋण।

सुरक्षित ऋणका अर्थ है कि जब कोई व्यक्ति ऋण लेता तब उस व्यक्ति को ऋण लेने की शर्त के रूप में कुछ वस्तुओं/वस्तुओं को गिरवी रखना पड़ता है। उदाहरण के लिए, यदि आपने कार, बाइक आदि जैसी भौतिक वस्तु खरीदने के लिए व्यक्तिगत ऋण लिया है और यदि किसी कारण से ऋण चुकाया नहीं गया है, तो ऋणदाता ऋण चुकाने के लिए आपकी संपार्श्विक रख सकता है।

असुरक्षित ऋण (Un-secured Loan) में मनी लोन प्राप्त करने के लिए कर्ज लेने वाले को अपने पास की किसी भी तरह की सामान को गिरवी रखने की जरूरत नहीं होती है। इस प्रकार के ऋण में जमा करने के लिए कोई संपत्ति नहीं होती है जिसका अर्थ है कि उधारकर्ता को उच्च ब्याज दर का भुगतान करना पड़ता है।

व्यक्तिगत ऋण के लिए आवश्यक दस्तावेज (Documents For Personal Loan In Hindi)

पर्सनल लोन के लिए आवेदन करते समय निम्नलिखित दस्तावेजों की आवश्यकता होती है:

फोटो पहचान प्रमाण (Photo Identity Proof): आपके वोटर आईडी / पासपोर्ट / ड्राइविंग लाइसेंस / आधार कार्ड की एक प्रति

आय प्रमाण (Income Proof): पिछले 3 महीनों के लिए आपका बैंक खाता विवरण

वेतन पर्ची (Salary Slip): पिछले तीन महीनों के लिए आपके वेतन की एक प्रति

पता प्रमाण (Address Proof): आपके राशन कार्ड/बिजली बिल/पासपोर्ट की एक प्रति

रोजगार प्रमाण पत्र (Employment Certificate): निरंतर रोजगार का एक वर्ष का प्रमाण पत्र

व्यक्तिगत ऋण पात्रता (Personal Loan Eligiblity In Hindi)

पर्सनल लोन के लिए अर्हता प्राप्त करने के लिए, आपको कुछ बुनियादी आवश्यकताओं को पूरा करना होगा। सामान्य व्यक्तिगत ऋण पात्रता कारक इस प्रकार हैं:

  • आपको एक भारतीय व्यक्ति होने की आवश्यकता है
  • आपकी आयु 21 से 67 वर्ष के बीच होनी चाहिए
  • आपका वेतन ₹22,000 से अधिक होना चाहिए
  • आपका सिबिल स्कोर 750 या अधिक होना चाहिए

अगर आप बैंगलोर, दिल्ली, पुणे, मुंबई, हैदराबाद, चेन्नई, कोयंबटूर, गाजियाबाद, नोएडा, ठाणे के रहने वाले है तो आवेदकों को न्यूनतम मासिक वेतन ₹ 35,000 की आवश्यकता होती है।

आप यदि अहमदाबाद, कोलकाता के निवासियों को व्यक्तिगत ऋण के लिए मासिक वेतन ₹ 30,000 प्रति माह होना चाहिए।

यदि आप जयपुर, चंडीगढ़, नागपुर, सूरत, कोचीन के आवेदकों को न्यूनतम वेतन 28,000 रुपये प्रति माह होना चाहिए।

गोवा, लखनऊ, बड़ौदा, इंदौर, भुवनेश्वर, विजाग, नासिक, औरंगाबाद, मदुरै, मैसूर, भोपाल, जामनगर, कोल्हापुर, रायपुर, त्रिची, त्रिवेंद्रम, वापी, विजयवाड़ा, जोधपुर, जोधपुर, कालीकट, राकोट, कालीकट, राजकोट। केंद्रीय निवासी न्यूनतम वेतन ₹ 25,000/माह चाहिए।

बीदर, मांड्या, भद्रक, बलांगीर, हासन, जूनागढ़, चालीसगांव, गोधरा, गांधीम, पेन और अन्य शहरों से व्यक्तिगत ऋण लेने पर विचार करने वाले ग्राहकों को न्यूनतम रु. ₹22,000 प्रति माह वेतन होना चाहिए।

कम ब्याज पर व्यक्तिगत ऋणों को कैसे ले (How To Get Personal Loan At Lowest Interest Rate In Hindi)

कम ब्याज दर वाला पर्सनल लोन पाने के लिए यहां मुख्य बिंदु दिए गए हैं:

  • हमेशा 750 या उससे अधिक का क्रेडिट स्कोर बनाएं और बनाए रखें
  • बैंकों और एनबीएफसी के पूर्व-अनुमोदित प्रस्तावों की जांच करें
  • चौकसी उन बैंकों / एनबीएफसी से पूछताछ करें जहां आपके पास पहले से जमा या ऋण खाते हैं
  • विभिन्न उधारदाताओं से व्यक्तिगत ऋण प्रस्तावों की जांच और तुलना करने के लिए ऑनलाइन वित्तीय बाजारों पर जाएं
  • आपके ऋण चुकौती इतिहास अच्छा हो
  • ऋण चुकौती के लिए छोटी चुकौती अवधि चुनें

व्यक्तिगत ऋण ब्याज दरों को प्रभावित करने वाले कारक

Factors Affecting Personal Loan Interest Rates In Hindi: उधारदाताओं ने मुख्य रूप से उनके द्वारा उधार दी गई धनराशि के साथ-साथ आवेदकों के क्रेडिट जोखिम मूल्यांकन पर ब्याज दरें निर्धारित की हैं। यहां कुछ प्रमुख कारक दिए गए हैं जो पर्सनल लोन की ब्याज दरों को प्रभावित कर सकते हैं:

1. क्रेडिट स्कोर: एक क्रेडिट स्कोर एक वित्तीय संस्थान को समय पर ऋण चुकाने के लिए आपकी विश्वसनीयता की जांच करने में मदद करता है। 750 या उससे अधिक के क्रेडिट स्कोर का मतलब है कि उधारकर्ता अपने सभी ऋणों को समय पर चुकाता है। कई उधारदाताओं ने ब्याज दरें निर्धारित करते समय अपने ऋण आवेदकों के क्रेडिट स्कोर की जांच शुरू कर दी है।

2. आय (Income) : उच्च आय ऋण चुकाने की उच्चतम संभावना को इंगित करती है। इससे उधारकर्ता के लिए कम वित्तीय जोखिम होता है। इस प्रकार, कई ऋणदाता कम ब्याज दरों पर उच्च आय वाले लोगों को उच्च व्यक्तिगत ऋण प्रदान करते हैं।

3. नियोक्ता (Employer) : कई ऋणदाता ऋण देने से पहले आवेदक की प्रोफाइल पर विचार करते हैं। व्यक्तिगत ऋण आमतौर पर स्वरोजगार करने वालों की तुलना में अधिक भुगतान वाले व्यक्तियों से कम ब्याज दरों पर लिया जाता है। सरकार और सार्वजनिक क्षेत्र के उपक्रमों जैसी उच्च गुणवत्ता वाली सुरक्षित नौकरियां आवेदकों को आय की निश्चितता के कारण कम ब्याज दरों की पेशकश करती हैं।

दि व्यक्तिगत ऋण का भुगतान नहीं किया जाता है तो क्या हो सकता है

यदि आप अपने कर्ज का भुगतान करना बंद कर देते हैं, तो आपको अंततः डिफ़ॉल्ट घोषित कर दिया जाता है।

आपको अपने खाते पर जुर्माना, शुल्क और ब्याज शुल्क देना होगा, इसलिए आपको अधिक खर्च करना होगा।

आपका क्रेडिट स्कोर नीचे जा सकता है और खोए हुए क्रेडिट स्कोर को पुनर्प्राप्त करने में वर्षों लग सकते हैं, जिसका अर्थ है कि आप कुछ वर्षों में फिर से ऋण प्राप्त करने में सक्षम नहीं हो सकते हैं।

परिथिति यदि स्थिति बढ़ जाती है, तो आपको कम से कम कानूनी दस्तावेजों और अदालत में पेश होने की आवश्यकताओं पर ध्यान देना चाहिए।

हालांकि, ऋण चूक से निपटने के दौरान, आपको संपत्ति और उचित उपचार के सभी अधिकारों को आत्मसमर्पण करने की आवश्यकता नहीं है।

(Conclusion) What Is Personal Loan In Hindi

दोस्तो आज की इस पोस्ट मे हमने यूट्यूब से पैसे कमाने के 12 बेहतरीन तरीके के बारे मे जाना. आशा करते है कि आज की हमारी पोस्ट आपको पसंद आए होगी.

इस लेख से आपको जरा सी भी मदद मिली होगी तो आप हमारा हौसला बढ़ाने के लिए इस लेख को आपके Group, परिवार, दोस्तो के साथ शेअर कर सकते है. हम आपके लिए इसी तरह के बेहतरीन लेख भविष्य में लाते रहेंगे.

आपने अपना बहुमुल्य समय हमारे लेख को पढ़ने के दिया इसे लिए हमारी Team आपका धन्यवाद करती है.

अगला लेख आप किस Topic पर चाहते है हमे Comment मे बताये. अगले Post मे हम आपके नाम को लेख के साथ प्रदर्षित करेंगे. धन्यवाद 🙏

Leave a Comment

%d bloggers like this: